who say Bihar is developing?

without electricity.At present bihar is facing worst electric cricis in many years.How  can a state developede without electricity.


NITISH KUMAR is doing nothing,before election he was saying many thing in his campaign.


.People should protest against it.At last we r the looser.

Views: 137

Reply to This

Replies to This Discussion

चल रे पुछल्ले, छक्के | तोरा से ताली भी नए बजतउ| पर्र-पर्र पादत रहीं| 

mukesh singh said:
ससुर आपन पाहून के एहेतारे कहबे तोरा माई के गोड़ लगो , अरे ससुरा तोरे घरे में रंडी बड़ी सन एहे से जानत बादे .. आपन दिदिया से पुचले हा का

Dukkhan Chamar said:
तोरा से अच्छा तो रंडी हउ, रे लौड़े| रंडी भी एक बार ठोकवा के, अ फिर से एस्नो-लवेंडर लगा के फिर से दूसरा मरद के ले के तैयार हो के बैठा जा हई और फिर से सिटी बजाव हई| लेकिन तू तो एक बार रंडी खेलो हहीं और एक बार दुल्हिन खेलो हहीं|
सबके सलाह हाउ, तों रंडी के खेल में ही ठीक हहीं| शरीफ नए बन|

Dukkhan Chamar said:

अब मूंछ टाईट हो गेलउ ? दरभंगा मुजफ्फरपुर के नाम अईते ही विकसित हो गेलहीं? छौंड़ा तहिने!


mukesh singh said:

हाँ भाई मै गरीब हू मगेर तुमलोग तो आमिर हो ना कुछ हेल्प कर सकते हो क्या ... सेल जबान चला रहा तब से कभी आ के मिल भी लेना , समझा और रही बात देने के तू सेल नितीश का गांड धोने वाला तू क्या देगा .. सेल जितना गरीबी तुम्हारे यहाँ है , दरभंगा , मुझ्फरपुर  , उतना हमरे यहाँ नहीं है बेटा तुम लोग खुद ही दाग हो .

Dukkhan Chamar said:
दुनियां के दलित, मुकेश| दुनियां के परेशान, मुकेश| दुनियां के पिछड़ल, मुकेश| दुनियां के सतायेल, मुकेश| दुनियां के दीन-हीन, मुकेश| बिहार के पिछड़ल चेहरा, मुकेश| बिहार के असली रूप, मुकेश| मुकेश के विकास होलई न टी बिहार के विकास होलई, दुन्नु एक्के बात हई| मुकेश के छोड़ के बिहार के पूरा आबादी विकसित आउर सुक्खल/सफ़ेद पैंट वाला हई|
चलहो, सब मिलके भाई मुकेश के एक-एक जोड़ा सुक्खल और सफ़ेद पैंट-बुसशर्ट के जोगाड़ करहो|

mukesh singh said:
कहे को लकिन को दबा रहे हो बाबु नितीश का पानी सूट क दिया का , हमारे यहाँ अभी सब वेसा ही कुछ नहीं बदला , ना लोग ना अर्ध वेवेस्था  बस पेपर में देखा की सस्कार बदल गई है ,मेरे ख्याल से बोलना बहुत आसान होता है , समझे जब झेलोगे तो फट के हाँथ में आ जायेगी ... किस परिस्धिती का सामना कर रहे है लोग , २ रुपया का पान  खा के चलने से जिगर नहीं आ जाता , आजाओ इसे ही कुछ जगह घुमा लाता हू तुम्हे . दिन में ही पेंट गीली और पिली हो जायेगी फिर यहा बक बक करना भी भूल जाओगे
Dear members,

Please don't make this platform vulgar.

तों जरुर पडोसी के आशीर्वाद हहीं | तोहर बात में ई सत्य के पुख्ता हस्ताक्षर हउ | जुग - जुग जी मेरे लाल |


mukesh singh said:

ससुर आपन पाहून के एहेतारे कहबे तोरा माई के गोड़ लगो , अरे ससुरा तोरे घरे में रंडी बड़ी सन एहे से जानत बादे .. आपन दिदिया से पुचले हा का

Dukkhan Chamar said:
तोरा से अच्छा तो रंडी हउ, रे लौड़े| रंडी भी एक बार ठोकवा के, अ फिर से एस्नो-लवेंडर लगा के फिर से दूसरा मरद के ले के तैयार हो के बैठा जा हई और फिर से सिटी बजाव हई| लेकिन तू तो एक बार रंडी खेलो हहीं और एक बार दुल्हिन खेलो हहीं|
सबके सलाह हाउ, तों रंडी के खेल में ही ठीक हहीं| शरीफ नए बन|

Dukkhan Chamar said:

अब मूंछ टाईट हो गेलउ ? दरभंगा मुजफ्फरपुर के नाम अईते ही विकसित हो गेलहीं? छौंड़ा तहिने!


mukesh singh said:

हाँ भाई मै गरीब हू मगेर तुमलोग तो आमिर हो ना कुछ हेल्प कर सकते हो क्या ... सेल जबान चला रहा तब से कभी आ के मिल भी लेना , समझा और रही बात देने के तू सेल नितीश का गांड धोने वाला तू क्या देगा .. सेल जितना गरीबी तुम्हारे यहाँ है , दरभंगा , मुझ्फरपुर  , उतना हमरे यहाँ नहीं है बेटा तुम लोग खुद ही दाग हो .

Dukkhan Chamar said:
दुनियां के दलित, मुकेश| दुनियां के परेशान, मुकेश| दुनियां के पिछड़ल, मुकेश| दुनियां के सतायेल, मुकेश| दुनियां के दीन-हीन, मुकेश| बिहार के पिछड़ल चेहरा, मुकेश| बिहार के असली रूप, मुकेश| मुकेश के विकास होलई न टी बिहार के विकास होलई, दुन्नु एक्के बात हई| मुकेश के छोड़ के बिहार के पूरा आबादी विकसित आउर सुक्खल/सफ़ेद पैंट वाला हई|
चलहो, सब मिलके भाई मुकेश के एक-एक जोड़ा सुक्खल और सफ़ेद पैंट-बुसशर्ट के जोगाड़ करहो|

mukesh singh said:
कहे को लकिन को दबा रहे हो बाबु नितीश का पानी सूट क दिया का , हमारे यहाँ अभी सब वेसा ही कुछ नहीं बदला , ना लोग ना अर्ध वेवेस्था  बस पेपर में देखा की सस्कार बदल गई है ,मेरे ख्याल से बोलना बहुत आसान होता है , समझे जब झेलोगे तो फट के हाँथ में आ जायेगी ... किस परिस्धिती का सामना कर रहे है लोग , २ रुपया का पान  खा के चलने से जिगर नहीं आ जाता , आजाओ इसे ही कुछ जगह घुमा लाता हू तुम्हे . दिन में ही पेंट गीली और पिली हो जायेगी फिर यहा बक बक करना भी भूल जाओगे

एक कामकर मेरे लाल| आज रतिया में जब मईया पे चढ़भीं, तब पूछहींक हल की तों केक्कर मजा के फल हहीं|


mukesh singh said:

हाँ तू ही मर्द है तो नितीश को भी ले ले साथ में और मेरा झांट उखड ले बेह्न्केलंद दोनों की माँ चोद दूँगा ...

एक बाप का होगा तो उखड ले वर्ना दोगला ३६ लंड के पेदैस चल फुट साले और उखाड ले मेरा ....
औरो सीधा डाउट हाउ तो हम्मर नाम लेके पूछहींक हल |

Dukkhan Chamar said:

एक कामकर मेरे लाल| आज रतिया में जब मईया पे चढ़भीं, तब पूछहींक हल की तों केक्कर मजा के फल हहीं|


mukesh singh said:

हाँ तू ही मर्द है तो नितीश को भी ले ले साथ में और मेरा झांट उखड ले बेह्न्केलंद दोनों की माँ चोद दूँगा ...

एक बाप का होगा तो उखड ले वर्ना दोगला ३६ लंड के पेदैस चल फुट साले और उखाड ले मेरा ....
चल, आज तो खूब मारलीयउ | कल दिशा खुलस्ता होतउ | परसों के कल देखबउ | मजे कर | 

Dukkhan Chamar said:
औरो सीधा डाउट हाउ तो हम्मर नाम लेके पूछहींक हल |

Dukkhan Chamar said:

एक कामकर मेरे लाल| आज रतिया में जब मईया पे चढ़भीं, तब पूछहींक हल की तों केक्कर मजा के फल हहीं|


mukesh singh said:

हाँ तू ही मर्द है तो नितीश को भी ले ले साथ में और मेरा झांट उखड ले बेह्न्केलंद दोनों की माँ चोद दूँगा ...

एक बाप का होगा तो उखड ले वर्ना दोगला ३६ लंड के पेदैस चल फुट साले और उखाड ले मेरा ....
this site needs moderator.people abuses.This is the best platform wher we can discuss.If this remains same bihar will never develope
Dear
Ram
i dont stay in bihar.It is my birth place.GOPALGANJ

hardly 1or 2 hr people r getting electricity.U may be staying in patna.ask the outsider.rural areas.

According to an estimate, 44 percent of India's population still live without electricity, making this biomass-based power generation technology indispensable in energy-starved states like Bihar.

 

Given below is the list of telephone numbers of Bihar State Electricity Board :

  • 2220610
  • 2220611
  • 2220612
  • 2220613
  • 2220614
  • 2220615
  • 2220616
  • 2220617

Reply to Discussion

RSS

© 2014   Created by YouBihar

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service